फायदे

सविनय-विनती

मैने कई लोगों को पछताते हुए देखा है सिर्फ़ इसी वजह से कि हकलाहट के इलाज मे उन्होने बहुत देर कर दी है। उन्होने अपने हकलाहट के इलाज को महत्व नही दिया| आप भी उनके गलती को न दोहराएँ और तुरंत हमारे कोर्स मे भर्ति हों। कृप्या अपने अनमोल समय व कीमती मौकों को बर्बाद न करें| इस सोच मे खुद को न चकराएँ कि हकलाहट ठीक हो सकती है या नही। आपको कई जगह से धोखा मिला होगा पर चिन्ता न करें। एक आखरी बार विश्वास करके देखें और यह कोर्स करें| मै आपको सिर्फ 2 सप्ताह मे धाराप्रवाह वक्ता बना सकता हूँ। इस सेन्टर मे से जो भी ठीक होकर जाता है यही अफसोस जताता है कि काश! यहाँ पहले आए होते। 

इसीलिए अब और देर न करे और अभी यह कोर्स करे।

हम पर विश्वास क्यों करें?

  • मै यह सेन्टर पिछले 25 सालों से चला रहा हूँ। कोई भी यह आसानी से समझ सकता है कि असरदार न होते हुए कोई भी संस्था इतने सालों तक कैसे चल सकता है।
  • सारे अभ्यास मेरे वर्षों के अनुसंधान व विशेषज्ञ अनुभव से रचे गए है।
  • 25 सालों की अवधि मे मैने कई 23,000 लोगों की हकलाहट 12 दिनों मे आसानी से ठीक कर चुका हूँ और अब यह मेरे लिए बाएँ हाथ का खेल है।
  • सन 1990 के मार्च महीने मे मैने अपने चार्टर्ड अकाउंटन्ट के लाभकारी व्यवसाय को त्याग कर हकलाहट-ग्रस्त लोगों के मदद के लिए समर्पित कर दिया है। हर कठिनाई के बावजूद मैने डटे रहने की ठान ली है।
  • मेरे हकलाहट के अनुभव से मै बहतर समझ सकता हूँ कि हकलाहट की वजह से आप पर क्या गुज़र रही है और आप कैसा महसूस करते है। इसीलिए उसके समाधान मुझसे अच्छा कौन जान सकता है।
  • दो प्रैक्टिस मेटीरियल बुक (हर एक पुस्तक 100 पन्नों से भी ज़्यादा है), तीन सी.डी. और पार्थ बागची द्वारा लिखे किताब का हिन्दी अनुवादन “हकलाहट का निश्चित उपचार” (200 पन्नों से भी ज़्यादा है), जो भारत के इतिहास मे हकलाहट के उपचार पर सबसे पहला एवं एक मात्र किताब है| इस से मेरे इस विषय पर विशेषज्ञ ज्ञान व अनुभव का इससे बडा प्रमाण और क्या हो सकता है।
  • भारत मे मेरे अकेले की यह कोशिश रही है कि विज्ञापन के ज़रिये मै लोगों तक हकलाहट व उसके उपचार के बारे मे सही जानकारी पहुँचाता रहूँ।
  • सारे मशहूर अखबारों व टी.वी. चैनलों मे मेरे और मेरे सेन्टर के बारे मे प्रकाशित हुआ है।
  • इसके अलावा मुझे इस नेक काम के लिए 7 राष्ट्रीय पुरस्कार और 1 अंतर-राष्ट्रीय पुरस्कार से सराहा गया है|
  • भगवान के मार्ग-दर्शन से मै इस क्षेत्र मे आया हूँ और इसी लिए मै लोगों की मदद करने के लिए भगवान के आगे उत्तरदायी हूँ।
  • मेरा यह मानना है कि अच्छे को भी और बहतर बनाया जा सकता है। इसीलिए मै समय समय पर अपने तकनीकों व अभ्यासों को बेहतर बनाने की कोशिश करता हूँ ताकि आपको जल्द से जल्द सुधार मिल सकें।
  • न सिर्फ़ मैने अपने जीवन को हकलाहट के उपचार करने के लिए समर्पित कर दिया है पर मेरा पूरा परिवार भी मेरे इस अभियान मे मेरे साथ है। मेरी पत्नि श्रीमति मित्रानी बागची के सक्रिय सहयोग व निष्ठा से ही मेरे लिए यहाँ तक आ पाना संभव हुआ है। मेरी बेटी एक मनोवैज्ञानिक है और मेरा बेटा सॉफ़्टवेयर इंजीनियर है। हम सब मिलकर एक अनोखा टीम बनाते है ताकि हम हकलाहट-ग्रस्त लोगों के भलाई के लिए इस नेक काम मे आगे बढते जाए।
  • मेरे पास दुनिया भर से 500 से भी ज़्यादा सर्वश्रेष्ठ किताबें है ताकि मै आप तक सिर्फ़ जाँची-परखी तत्व और अमूल्य ज्ञान पहुँचा सकूँ।
  • ज़्यादा से ज़्यादा लोगों की मदद करने के लिए हम हमारे कोर्स मेटीरियल को दूसरे भाषाओं मे अनुवाद करने की कोशिश कर रहे है।
  • हमारे कोर्स के तकनीक व अभ्यास इस प्रकार है कि आपकी सुधार स्थाई हो और हकलाहट लौटकर न आए।
  • हमारे इस अभियान मे हमे विश्वास देती है उन हज़ारों लोगों की मुस्कान व उनके परिवार वालों का आशीर्वाद जो हमारी वजह से एक खुशहाल हकलाहट-मुक्त ज़िन्दगी जी रहे है।

बच्चों के कोर्स के फ़ायदे

  • कम उमर मे ठीक हो जाने से आगे जाकर हकलाहट व उससे संबंधित परेशानियाँ नही होगी।
  • आपके बच्चे को हकलाहट की सचेतनता आने से पहले ही उस समस्या को जड से मिटा दें।
  • वह अच्छे दोस्त बना पाएगा, दूसरे बच्चों के साथ बात कर पाएगा, उनके साथ खेल पाएगा और उनके साथ मज़ा कर पाएगा।
  • बिना हकलाहट के, आपका बच्चा और भी मिलनसार और फुर्तीला बनेगा।
  • हकलाहट से राहत पाकर परिवारवालें भी चैन की साँस ले पाएँगे।
  • हकलाने से आनीवाली शर्म और नकारात्मक सोच शुरू होने से पहले ही सही हो जाएगी।
  • मज़ाक उडाए जाने से और दूसरों के उपेक्षा से आपका बच्चा अंदर से टूट सकता है पर हकलाहट से ठीक होने से आप यह होने से रोक सकते है।

स्कूल मे पढने वाले बच्चों के लिए फ़ायदे

  • स्कूल मे पढाई और अन्य कार्यक्रमों मे आपका बच्चा बेझिझक भाग ले सकता है।
  • अपने सारे प्रतिभा और गुणों का भरपूर इस्तेमाल करके आपका बच्चा अपने सारे सपनों को पूरा कर पाएगा।
  • आपका बच्चा हर क्षेत्र मे अपने उदासी और निराशा से उभर कर सकारात्मक व आशावादी बन पाएगा।
  • अपने बच्चे की प्रभावशाली व्यक्तित्व देखकर आप भी फूला नही समा पाएँगे और दूसरे प्रशंसा करते नही थकेंगे।
  • विश्वास और पढाई के बहतर समझ से आपका बच्चा और ज़्यादा अंक लाकर बहतर परिणाम ला पाएगा।
  • मौखिक परीक्षा अब उसके लिए आतंक नही होगी।
  • अच्छे दोस्त बनाकर वह अपना बचपन खुशी से बिता पाएगा।
  • वह अंग्रेज़ी मे धाराप्रवाह हो जाएगा।

कॉलेज मे पढने वालों के लिए फ़ायदे

  • आप अपने सहपाठियों व शिक्षकों से अच्छी तरह मेल-जोल बढा सकते है।
  • एक अविश्वसनीय व्यक्तित्व से आप सारे दुनिया को मोह सकते है।
  • आपके बोलने के स्टाइल मे जो भी खामियाँ है उनको खूबियों मे बदल दें।
  • आपको अपने नकारात्मक चिन्ताओं, गुस्से, मायूसी, उदासी, हताशा, निराशा, हतोत्साह, नाराज़गी, इत्यादि पर काबू पा सकेंगे।
  • फ़र्राटेदार अंग्रेज़ी बोलकर आप सफलता की राह मे एक पडाव आगे रह सकते है।
  • अपने आत्मविश्वास और खुद पर यकीन से आप हर मंज़िल को पा सकते है।
  • आप अपने मन के विचारों को आसानी से व्यक्त कर पाएँगे।
  • विभिन्न प्रतियोगिता व कार्यक्रम मे भाग ले सकते है।
  • आपको भाषण, सेमिनार, स्पीच, प्रेसेन्टेशन, ग्रूप डिस्कशन, इत्यादी देने मे कोई परेशानी नही होगी।

नौकरी की खोज करने वाले लोगों के लिए फ़ायदे

इन्टरव्यू ज़्यादातर लोगों के लिए डर का विषय है और अगर आपको हकलाहट होती हो तो आपके लिए वह किसी आतंक से कम नही है। जिन लोगों को हकलाहट होती है, उन्हे इन्टरव्यू के कॉल के बारे मे पता चलते ही वे नकारात्मक सोचने लगते है जिससे उनकी हकलाहट और भी बढ जाती है। परिणामतः उन्हे नौकरी नही मिलती है और इसी चिन्ता से उनकी हकलाहट बेकाबू हो जाती है। ऎसे मे हम इस कोर्स से आपकी मदद कर सकते है।

  • हमारे रेगुलर कोर्स से आप अपने हकलाहट को ठीक कर सकते है और एक प्रशंसनीय स्टाइल मे बोलकर लोगों का मन मोह सकते है।
  • इस कोर्स से आपके व्यक्तित्व, वार्तालाप करने की कौशल, आत्म-विश्वास, अंग्रेज़ी मे धाराप्रवाहता, सकारात्मक सोच, आकांक्षा, आशावादिता, आदि मे भी वृद्धि होगी।
  • इसके अलावा, आपको अपने नकारात्मक चिन्ताओं, गुस्से, मायूसी, उदासी, हताशा, निराशा, हतोत्साह, नाराज़गी, इत्यादि पर काबू पा कर उनको सही दिशा मे प्रचालित करेंगे।
  • आपके अभ्यास के लिए एक इन्टरव्यू जैसा माहौल की व्यवस्था किया जा सकता है जिससे आपको असल इन्टरव्यू मे आसानी होगी।
  • सेन्टर मे ग्रूप डिस्कशन मे भाग लेकर आप इन्टरव्यू के लिए भी तैयार हो सकते है।
  • आज कल टेलीफ़ोन पर इन्टरव्यू आम बात है। इस लिए टेलीफ़ोन पर बात करने की अभ्यास से आप इस मे भी सफल होंगे।
  • प्रैक्टिस मेटीरियल बुक-2 मे इन्टरव्यू के बारे मे बहुत सारे मददगार सलाह व टिप्पनी भी दी गई है।
  • आपके साक्षात्कार मे आपका सहायक व हमसफ़र बनने श्री पार्थ बागची द्वारा लिखा गया किताब “इन्टरव्यूस नो मोर अ हर्डल” हमारे यहा उपलब्ध है। यह 300 पन्नों का किताब इन्टरव्यू के विषय पर बेशक सबसे कारगर व वास्तविक किताब है।

हमारे इस कोर्स से कई लोगों को अपने मनचाहा नौकरी व उत्तम वेतन हासिल हुई है तो आप क्यों पीछे रह जाएँगे। अनगिनत मौकों को और न गवाएँ, तुरंत हमारे कोर्स का लाभ उठाएँ और अपने सफलता की कहानी खुद लिखें।

काम करनेवाले लोगों के लिए फ़ायदे

  • अपने इतने सालों की मायूसी, हीन भावना, शर्मिन्दगी, हतोत्साह, इत्यादि को पीछे छोडकर, आप एक नए संभावनामय जीवन की ओर पूरी फ़ुर्ती से कदम बढा सकते है।
  • आप अपने कम्पनी मे बहतर योगदान दे कर प्रशंसा व अन्य उपहार भी पा सकते है।
  • आप अपने अनोखे विचार व सुझाव आसानी से प्रकट कर सकते है।
  • आप मीटिन्ग मे रिपोर्ट पढना या प्रेसेन्टेशन देना आपके लिए बाएं हाथ का खेल हो जाएगा।
  • आप अपने और आपके कम्पनी का उत्पादन बढा सकते है।
  • आप जिस क्षेत्र मे चाहे उसी व्यवसाय मे काम कर सकते है।
  • हकलाहट के वजह से आपको नौकरी से निकाले जाने का डर अब और नही सताएगा।
  • अब आपके लिए किसी भी पद के लिए इंटर्व्यू डरावना नही रहेगा।
  • अब आपको प्रोमोशन पाने से और ऊँचे पद पर होने से कोई भी रोक नही सकती है।
  • अब आप अपने योग्यता के अनुसार अपनी नौकरी चुन सकते है।
  • अपने नए आत्मविश्वासी व्यक्तित्व से आप हर सफलता को हासिल कर पाएँगे।

इस कोर्स से आपकी ज़िन्दगी बदलने वाली है। तैयार हो जाइए एक सफल और खुशाल ज़िन्दगी के लिए जिस मे आप अपने सारे सपने पूरा कर सकते है।

स्टैमरिन्ग क्योर सेन्टर के छात्रों की कहानी उनकी ज़ुबानी

“मेरी सबसे बडी कमज़ोरी थी मेरी बोली। इस कोर्स को करने के बाद अब मेरी बोली ही मेरी सबसे बडी ताकत बन गई है।“

कार्तिक टी. एन.

20 वर्ष वाइज़ैग

“पहले मेरी जल्दबाज़ी और हडबडाहट वाली बोली किसी को समझ मे नही आती थी पर अब मेरी साफ़ बोली सबको आसानी से समझ मे आती है।“

रुचिरा अरोरा

24 वर्ष दिल्ली
  1. “मेरी हालत बहुत खराब थी। मैने हकलाहट के वजह से अपने माता-पिता और दोस्तों से भी बात करना बन्द कर दिया था। अब इस कोर्स की मदद से मै किसी से भी आत्म-विश्वासी होकर धाराप्रवाह बोल सकता हूँ।“

जेफ़ फ़र्नान्डेज़

19 वर्ष गोआ
“क्योंकि मै अपने काम से समय निकाल नही पा रहा था| मैने पहले पत्राचार कोर्स घर मे ही किया और मुझे अपने सुधार पर यकीन नही हो रहा था। इसके बाद मैने बैंगलोर मे रेगुलर कोर्स करके लाजवाब बोली हासिल कर ली है।“

सैयद अफ़्ज़ल

29 वर्ष नासिक

“इस कोर्स मे मुझे इतने सारे लोगों के सामने माइक्रोफ़ोन पर बात करना सबसे बढिया लगा। इससे मेरा आत्मविश्वास बढ गया और मेरा सारा डर, घबराहट गायब हो गया।“

वम्सी क्रष्णा

38 वर्ष हायदेराबाद